header tag

विद्युत आवेश के मूल गुण। आवेश का बीजीय योग ,आवेश का क्वाण्टीकरण , क्वाण्टीकरण का कारण। आवेश का संरक्षण क्या है? आवेश संरक्षण का सिद्धांत

विद्युत आवेश के मूल गुण। आवेश का बीजीय योग ,आवेश का क्वाण्टीकरण , क्वाण्टीकरण का कारण।  आवेश का संरक्षण क्या है? आवेश संरक्षण का सिद्धांत

विद्युत आवेश के मूल गुण ।

विद्युत आवेश के मुख्यतः तीन मूल गुण होते हैं-:
(1) आवेश का बीजीय योग ।
(2) क्वाण्टीकरण।
(3) आवेश का संरक्षण। 


आवेश का बीजीय योग क्या है?

 "किसी भी निकाय में कुल आवेश उसमें उपस्थित सभी आवेशो के बीजीय योग के बराबर होता है। "



आवेश का क्वाण्टीकरण क्या है? 

"विद्युत आवेश को अनिश्चित रूप से विभाजित नहीं किया जा सकता। विद्युत आवेश के इस इस गुण को ही विद्युत आवेश का क्वाण्टीकरण कहते हैं।" 


आवेश के क्वाण्टीकरण का कारण। 

"विद्युत आवेश के क्वाण्टीकरण का कारण यह है कि इलेक्ट्रॉन का स्थानांतरण सदैव पूर्ण गुणज में होता है।"


आवेश का संरक्षण क्या है? 

आवेश को ना तो उत्पन्न किया जा सकता है और ना ही नष्ट किया जा सकता है। यह विभिन्न तरीकों से विभिन्न समूहों में परिलक्षित हो सकता है। 


आवेश संरक्षण का सिद्धांत

" किसी पृथक्कृत निकाय में धनावेश और ऋणावेश का बिजीय योग सदैव नियत रहता है। "

Post a Comment

0 Comments